लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Business ›   IT Department will hear individual cases through video conferencing on tax recovery or appeal against notice

आयकर विभाग : टैक्स वसूली या नोटिस के खिलाफ अपील करने पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से व्यक्तिगत मामलों की करेगा सुनवाई 

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Kuldeep Singh Updated Thu, 30 Dec 2021 03:32 AM IST
सार

आयकर विभाग की ओर से टैक्स वसूली या नोटिस के खिलाफ अपील करने पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये व्यक्तिगत मामलों की सुनवाई की जा सकेगी। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने 28 दिसंबर को फेसलेस अपील स्कीम 2021 को नोटिफाई किया।

आयकर विभाग
आयकर विभाग - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

आयकर विभाग ने फेसलेस असेसमेंट की प्रक्रिया में बदलाव करते हुए करदाताओं के लिए अपील और व्यक्तिगत सुनवाई को आसान बना दिया है। विभाग की ओर से टैक्स वसूली या नोटिस के खिलाफ अपील करने पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये व्यक्तिगत मामलों की सुनवाई की जा सकेगी। 



सहूलियत- टैक्स वसूली या नोटिस के खिलाफ करदाता की अपील पर आयुक्त ले सकेंगे फैसला
केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने 28 दिसंबर को फेसलेस अपील स्कीम 2021 को नोटिफाई किया। इसके तहत करदाता की ओर से व्यक्तिगत सुनवाई की अपील पर अब आयुक्त फैसला कर सकेंगे। उन्हें सुनवाई की तिथि और समय निर्धारित करने का अधिकार होगा। इसके बाद नेशनल फेसलेस अपील सेंटर के जरिये वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सुनवाई की जाएगी। सुनवाई के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग को सपोर्ट करने वाले किसी भी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जा सकेगा।


विभाग ने स्पष्ट किया है कि कोई भी करदाता व्यक्तिगत रूप से या अन्य किसी गैर आधिकारिक प्रतिनिधि के जरिये प्रस्तुत नहीं हो सकता है। इससे पहले व्यक्तिगत सुनवाई की अपील पर मुख्य आयुक्त या आयकर विभाग के महानिदेशक फैसला करते थे। संशोधित स्कीम में करदाता को समय-समय पर मैसेज के जरिये जरूरी जानकारियां भी उपलब्ध कराई जाएंगी।

रिटर्न भरने का समय तीन महीना बढ़ाने की मांग
आल इंडिया टैक्सपेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष अभिषेक मुरली सहित अन्य संगठनों ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर आयकर रिटर्न की अंतिम तिथि बढ़ाने की मांग की है। संगठनों का कहना है कि नए पोर्टल पर लंबे समय तक तकनीकी खामियां बनी रहीं, जिससे रिटर्न भरने में काफी दिक्कत हुई। सबसे ज्यादा समस्या ओटीपी को लेकर रही। अब भी करदाताओं को ओटीपी मिलने में दिक्कत आ रही है। लिहाजा रिटर्न भरने की अंतिम तिथि तीन महीने बढ़ाकर 31 मार्च, 2022 की जानी चाहिए।  

4.86 करोड़ करदाताओं ने भरा रिटर्न, 19 लाख एक दिन में
आयकर विभाग ने बुधवार को बताया कि अब तक 4.86 करोड़ करदाताओं ने रिटर्न दाखिल किया है। 28 दिसंबर को ही 18.89 लाख करदाताओं ने रिटर्न भरा। व्यक्तिगत करदाताओं के लिए विभाग पहले ही रिटर्न भरने की अवधि पांच महीने बढ़ा चुका है। अब तक भरे गए कुल रिटर्न में 2.57 करोड़ आईटीआर-1, 1.23 करोड़ आईटीआर-4, 43 लाख लाख आईटीआर-2 और 53 लाख ने आईटीआर-3 फॉर्म भरा है। वित्तवर्ष 2019-20 में कुल 5.95 करोड़ करदाताओं ने रिटर्न भरा था। विभाग को उम्मीद है कि इस साल यह आंकड़ा और ज्यादा पहुंच सकता है।  

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

Latest Video

विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00