लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Farrukhabad ›   District Panchayat clerk arrested for taking bribe of fifty thousand

जिला पंचायत का लिपिक पचास हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Kanpur	 Bureau कानपुर ब्यूरो
Updated Fri, 18 Feb 2022 11:17 PM IST
एंटी करप्सन टीम द्वारा रिश्वत लेने के आरोप में पकड़ा गया लिपिक रजनीश यादव। संवाद
एंटी करप्सन टीम द्वारा रिश्वत लेने के आरोप में पकड़ा गया लिपिक रजनीश यादव। संवाद - फोटो : FARRUKHABAD
विज्ञापन
ख़बर सुनें
फर्रुखाबाद। लखनऊ की एंटी करप्शन टीम ने शुक्रवार को जिला पंचायत कार्यालय में ठेकेदार से 50 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए लिपिक रजनीश यादव को रंगे हाथ पकड़ लिया। टीम उसे लेकर कोतवाली फतेहगढ़ पहुंची। एंटी करप्शन के इंस्पेक्टर प्रवीण सान्याल ने बताया कि ठेकेदार की शिकायत पर कार्रवाई की गई है। लिपिक के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम का मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है।

कन्नौज के छिबरामऊ कस्बा निवासी अजय यादव की कृष्णा कंस्ट्रक्शन नाम से कंपनी है। वह जिला पंचायत फर्रुखाबाद में ठेके पर निर्माण कार्य कराते हैं। उनका दो वर्ष से भुगतान अटका था। लिपिक रजनीश यादव भुगतान के एवज में रिश्वत मांग कर रहा था। अजय ने कुछ दिनों पूर्व मामले की शिकायत एंटी करप्शन ब्यूरो में की थी। गुरुवार शाम लखनऊ से एंटी करप्शन टीम जिले में पहुंच गई। टीम में शामिल इंस्पेक्टर प्रवीण सान्याल, रेणु सिंह, चंद्रेश यादव, दीवान चंद्रभान मिश्रा, शिव कुमार शर्मा व संतोष ने ठेकेदार अजय से मिलकर लिपिक को रिश्वत देने की पूरी रणनीति तैयार कर ली थी।

शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे टीम जिला पंचायत कार्यालय के पास पहुंची। कुछ देर बाद अजय यादव जिला पंचायत कार्यालय पहुंचे। उन्होंने लिपिक रजनीश यादव से कुछ देर बात की और 50 हजार रुपये दे दिए। रजनीश रुपये गिनने लगा, तभी टीम के लोग पहुंच गए और उसे दबोच लिया। इस दौरान लिपिक ने भागने का प्रयास भी किया, लेकिन सफल नहीं हुआ। यह देख कर्मचारियों में भगदड़ मच गई। लिपिक को जीप में बैठाकर टीम सीधे फतेहगढ़ कोतवाली लेकर पहुंची। टीम ने मामले की जानकारी अपर मुख्य अधिकारी को फोन पर दे दी। उधर, ठेकेदार से बकाया भुगतान के बारे में पूछने पर उसने बताने से इनकार कर दिया।
वर्जन
मामले में जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी नरेंद्र पाल सिंह ने बताया कि वह इस समय चुनाव ड्यूटी में हैं। कार्यालय पहुंचने पर ही बता सकेंगे कि ठेकेदार का किस काम का कितना बकाया है और उसे भुगतान क्यों नहीं हुआ है।
एंटी करप्शन के इंस्पेक्टर प्रवीण सान्याल ने बताया कि अजय यादव की शिकायत पर जिला पंचायत के लिपिक रजनीश यादव को रंगे हाथ पकड़ा है। उसके पास से रिश्वत के 50 हजार रुपये मिले हैं। लिपिक के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम का मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है।

लिपिक रजनीश यादव से बरामद हुए मेज पर रखे रुपये। संवाद

लिपिक रजनीश यादव से बरामद हुए मेज पर रखे रुपये। संवाद- फोटो : FARRUKHABAD

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

Latest Video

विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00