लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Pakistan Government formed the first committee of Hindu leaders to look after the temples of the minority community

पाकिस्तान : सरकार ने अल्पसंख्यक समुदाय के मंदिरों की देखभाल के लिए हिंदू नेताओं की पहली समिति का किया गठन

पीटीआई, इस्लामाबाद Published by: Kuldeep Singh Updated Thu, 30 Dec 2021 01:12 AM IST
सार

पाकिस्तान में धार्मिक मामलों के मंत्रालय ने पहले से काम कर रहे पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति की तर्ज पर पाकिस्तान हिंदू मंदिर प्रबंधन समिति का गठन किया। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, पाकिस्तान हिंदू मंदिर प्रबंधन समिति की उद्घाटन बैठक की अध्यक्षता धार्मिक मामलों के मंत्री पीर नूर-उल-हक कादरी ने की।

hindu temple in pakistan
hindu temple in pakistan - फोटो : dawn
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

पाकिस्तान ने बुधवार को घोषणा की कि उसने मुस्लिम बहुल देश में अल्पसंख्यक समुदाय के मंदिरों की देखभाल के लिए हिंदू नेताओं की पहली संस्था का गठन किया है।



धार्मिक मामलों के मंत्रालय ने पहले से काम कर रहे पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति की तर्ज पर पाकिस्तान हिंदू मंदिर प्रबंधन समिति का गठन किया। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, पाकिस्तान हिंदू मंदिर प्रबंधन समिति की उद्घाटन बैठक की अध्यक्षता धार्मिक मामलों के मंत्री पीर नूर-उल-हक कादरी ने की।


इवैक्यूई ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड (ईटीपीबी) के अध्यक्ष आसिफ हाशमी ने बैठक को मामलों की जानकारी दी। ईटीपीबी एक वैधानिक बोर्ड है जो विभाजन के बाद भारत में प्रवास करने वाले हिंदुओं और सिखों की धार्मिक संपत्तियों और तीर्थस्थलों का प्रबंधन करता है। कादरी ने कहा, समिति हिंदू पूजा स्थलों से संबंधित मामलों की देख-रेख करेगी।

हिंदू समुदाय की मांग पर कमेटी बनाकर रचा इतिहास : समिति अध्यक्ष
समिति में दीवान चंद चावला, हारून सरब दयाल, मोहनदास, नारंजन कुमार, मेघा अरोड़ा, अमित शदानी, अशोक कुमार, वर्सी मिल दीवानी और अमर नाथ रंधावा होगें जिसके अध्यक्ष कृष्णा शर्मा होंगे। कृष्णा शर्मा ने कहा, पाकिस्तान ने हिंदू समुदाय की मांग पर कमेटी बनाकर इतिहास रच दिया है।

कादरी ने कहा कि पाकिस्तान की गैर-मुस्लिम आबादी की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर हल किया जा रहा है और समिति का गठन पाकिस्तानी हिंदू समुदाय के मुद्दों को सुलझाने में सहायक होगा।

मंत्री ने कहा कि धार्मिक और सांस्कृतिक विविधता के बावजूद, सहिष्णुता और एक-दूसरे की स्वीकृति मानवता है, यह कहते हुए कि दुष्ट तत्व पाकिस्तान में धर्म, संप्रदाय और भाषा विज्ञान के आधार पर टकराव चाहते हैं। उन्होंने कहा कि नई समिति गैर-मुस्लिम आबादी और राज्य के बीच एक सेतु का काम करेगी।
विज्ञापन

पाकिस्तान देश में 75 लाख हिंदू रहते हैं : अनुमान
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान के विजन के मुताबिक गैर मुस्लिम आबादी के कल्याण के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। पाकिस्तान में हिंदू सबसे बड़े अल्पसंख्यक समुदाय हैं। आधिकारिक अनुमान के मुताबिक देश में 75 लाख हिंदू रहते हैं।

पाकिस्तान की अधिकांश हिंदू आबादी सिंध प्रांत में बसी है जहां वे मुस्लिम निवासियों के साथ संस्कृति, परंपरा और भाषा साझा करते हैं। वे अक्सर चरमपंथियों द्वारा उत्पीड़न की शिकायत करते हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

Latest Video

विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00